ट्रेन का आविष्कार किसने और कब किया

0
rails of classic era
first rail
Richard Trevithick (13 April 1771 – 22 April 1833)

Richard Trevithick (13 April 1771 – 22 April 1833)

ट्रेन का आविष्कार किसने और कब किया, हम सबने अपने जीवन में कभी न कभी रेल से जरूर सफर किया होगा, और ये देख के आश्चर्यचकित भी हुए होंगे की कैसे हमे रेल हर जगह आसानी से ले जाने में सक्षम है, तो चलिए आज आपको बताते है
ट्रेन का आविष्कार किसने और कब किया, कौन थे रेलवे के आविष्कारक, कैसे बनी रेल और क्या है इसका इतिहास जानिए हमारे साथ –

पहला प्रयास रेल की दिशा में


Richard Trevithick (13 April 1771 – 22 April 1833) ये वही नाम है जिनको श्रेय जाता है ट्रेन को पहली बार बना के चलाने का, ये एक ब्रिटिश आविष्कारक थे, साथ ही ये एक माइनिंग इंजीनियर के तौर पर भी काम करते थे, रिचर्ड एक माइनिंग कप्तान के बेटे थे और बचपन से ही माइनिंग और इंजीनियरिंग में लग गए थे, स्कूल में बहुत अच्छा नहीं कर पाए, मगर स्टीम रोड और रेल ट्रांसपोर्ट में आगे रहे, इनका मुख्य योगदान था हाई प्रेशर स्टीम इंजन, साथ ही इन्होने पहला फुल स्केल वर्किंग स्टीम लोकोमोटिव, जिसके चलते पहली लोकोमोटिव हॉलड रेलवे जर्नी 21 फरवरी 1804 को हुई जब रिचर्ड के स्टीम लोकोमोटिव ने एक ट्रेन को खींचा Penydarren Ironworks, Merthyr Tydfil, Wales में |


Thomas Newcomen और जेम्स वाट दो ऐसे लोग थे जिन्होंने इस दिशा में पहले से प्रयास शुरू कर रखे थे, और रिचर्ड के सामने मुख्य चुनौती ये थी की कैसे वो नया कुछ बनाये जिससे की उनकी कंपनी को डिंग डाँग माइन में जहाँ पर वो इंजीनियर के रूप में काम कर रहे थे, वहाँ उन्होंने हाई प्रेशर स्टीम का प्रयोग किया एडवर्ड बुल के सहयोग से |


गूगल का आविष्कार किसने किया और कब


स्ट्रांग स्टीम‘ का प्रयोग रिचर्ड ने तो शुरू किया ही इसमें उनकी मदद उनके पड़ोसी William Murdoch ने भी की जिन्होंने रिचर्ड के अनुरोध पर 1794 में उन्हें प्रदर्शित कर के दिखाया, साथ ही आपको बताए चले की 1784 से विलियम इस दिशा में काम कर रहे थे, ‘आर्थर वूल्फ’ भी इस दिशा में महत्वपूर्ण काम कर रहे थे |

IRCTC Indian Railways seat availability calendar

दूसरा प्रयास “Puffing Devil”


रिचर्ड ने Puffing Devil नाम से एक फुल साइज स्टीम रोड लोकोमोटिव बनाया था, जो की रेल बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण प्रयास था जिस पर वो 6 लोगो को बैठा के बीकन नामक एक स्थान तक ले गए थे |
Coalbrookdale Locomotive इसके चलने के विषय में जो जानकारी है वो हमे रिचर्ड के द्वारा लिखे हुए लेटर से प्राप्त होती है जो उन्होंने अपने दोस्त Davies Giddy को लिखा था, ये ड्राइंग बचा के साइंस म्यूजियम में राखी हुई है जिसमे इसके विषय में जानकारी उपलब्ध है|
इसी प्रकार से आगे बढ़ते हुए 1803 में लंदन स्टीम कैरिज नाम से रेल बनाने की कोशिश की और इसने सबका ध्यान भी आकर्षित किया सबकी तरफ, इसने Holborn से Paddington तक जाकर और वहां से वापसी कर के सबका ह्यां अपनी तरफ खींचा, मगर ये सफल नहीं रही महंगी
और आरामदायक न होने के कारण |
इसके बाद नंबर आया Pen-y-Darren” Locomotive का जिसके लिए शर्त लगी थी की वो तक़रीबन 10 मील का सफर तय कर लेगी जो की Penydarren से Abercynon तक , ये संभव हुआ 21 फेरवारी 1804 को, साथ ही आपको बताते चले की ये रेल 10 टन लोहा, 5 वैगन
और 70 इंसान को लेकर चली थी, एक पूरा वर्किंग मॉडल इसका 1981 में Welsh Industrial and Maritime Museum में था, जो की बाद में National Waterfront म्यूजियम,Swansea
पहुंच गया, साल में कई बार ये 40 मीटर की दुरी भी तय करता है museume के बाहर |

अंतिम प्रयास “Catch Me Who Can”


इसके बाद रिचर्ड का अंतिम प्रयास रेल की दिशा में जो था उसका नाम है ‘Catch Me Who Can‘ इसे रिचर्ड ने एक सर्कस में दिखाया, और इसकी सवारी करने के लिए 1 शिलिंग का टिकट भी रखा, ये करतब उन्होंने Euston Square tube station लंदन में किया, मगर इसकी असफलता के कारण उन्होंने आगे रेल बनाने के प्रयोग करना band कर दिए, मगर उनके प्रयासों को गति मिली जब 1812 में Matthew Murray,Holbeck में ट्विन सिलिंडर स्टीम लोकोमोटिव लेकर आये , अब आप जान गए होंगे की ट्रैन का अविष्कार किसने और कब किया, कौन थे रेलवे के आविष्कारक, कैसे बनी रेल |


रिचर्ड ने 22 अप्रैल 1833 को आखरी सांस ली, और वो आखरी समय तक काम कर रहे थे, पैसे की कमी से उन्हें भी जूझना पड़ा | ट्रेन का आविष्कार किसने और कब किया अब आप अच्छे से जान गए होंगे |
किसी और जानकारी या अविष्कार के विषय में जानने के लिए हमे कमेंट बॉक्स में बताये हम जल्दी ही आपकी ख्वाहिश पूरी करेंगे जुड़े रहे heyuno के साथ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here